Zacchaeus Bible Story in Hindi

Zacchaeus Story in Hindi

जीसस का आगमन

Zacchaeus Story in Hindi – यह कहानी उस समय की है जब जीसस जगह-जगह घूम कर ईश्वर के सन्देश को लोगो तक पहुचाते थे। जीसस लोगो को बताते थे की ईश्वर हम सब से प्यार करता है और वह हमारें पापों के लिए हमें माफ़ भी कर सकता है बस हमें सच्चे मन से ईश्वर से प्रार्थना करनी होगी और हमें अपने पापों के लिए उनसे माफ़ी मांगनी होगी।

लोग जीसस की बात ध्यान से सुनते और उनके कहे हुए रास्तें पर चलते ऐसा इसलिए था क्योकि जीसस ईश्वर का सन्देश लोगो तक पंहुचा रहे थे।

जीसस लोगों के बीच बहुत ही प्रचलित थे और उन्हें देखने के लिए तरसते थे। अब जीसस जेरिको नाम के शहर में ईश्वर का सन्देश देने वाले थे। जीसस के आने की खबर पुरे शहर में फ़ैल गई थी। जेरिको उनदिनों कनान के देश में हुआ करता था लेकिन इन दिनों यह पलिस्तीन का एक शहर हो जो जॉर्डन की घाटियों में स्थित है।

Zacchaeus Story in Hindi
Zacchaeus Story in Hindi

जेरिको में ज़च्चायुस

उनदिनों जेरिको के शहर में ज़च्चायुस नाम का एक व्यक्ति रहता था। वह कद में बहुत ही छोटा था लेकिन वह दुसरो से बहुत आमिर और धनवान था। ज़च्चायुस जेरिको का कर वसूलता था। लोग उसे पापी और ज़ालिम कहते थे। ऐसा इसलिए था क्योकि वह लोगो को बेवकूफ बनाकर गलत तरीके से कर वसूलता। लोगो के कर ना चुकाने पर लोगो पर अत्याचार करता।

जीसस के जेरिको में आने की खबर ज़च्चायुस कई बार सुना था। वह बार-बार जीसस के आने की खबर सुनता और सोचने लगता की आखिर जीसस कौन है ? और लोग उनके आने से इतने खुश क्यों है ? व्याकुल होकर और गुस्से में आकर ज़च्चायुस अपनी पत्नी से पूछता है, “जीसस, आखिर कौन है ये जीसस ? ऐसा क्या है उसके पास जो लोग उसकी ओर आकर्षित हो रहे है ? क्या उसके पास मेरे से भी ज़्यादा धन है ? “

ज़च्चायुस की पत्नी ने ज़च्चायुस के सारें सवालों को ध्यान से सुना और जवाब में कहा, “नाज़रत के जीसस ईश्वर के बेटे है। वें स्वयं ईश्वर है जोकि धन दौलत से ऊपर है। “

अब ज़च्चायुस ने निर्णय किया की वह भी जाकर जीसस से मिलेगा। वह अपने घर से निकला और लोगों की भेड़ में शामिल हो गया। सबकी नज़र जीसस की ओर थी लेकिन ज़च्चायुस की कद छोटी होने की वजह से वह उन्हें नहीं देख पा रहा थी। उसने खूब कोशिश की वह अपने पैर की अंगुली की नोक में भी खड़ा होकर जीसस को देखने की कोशिश करता रहा लेकिन वह जीसस को नहीं देख सका।

ज़च्चायुस जीसस को देखने के लिए पास के एक गूलर के वृक्ष में चढ़ गया। पेड़ पर चढ़ने के बाद ज़च्चायुस जीसस को बड़ी आसानी से देख सकता था। जीसस धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे थे। जैसे ही जीसस गूलर के पेड़ के निच्चे पहुंचे तो उन्होंने ऊपर देखा और कहा, “ज़च्चायुस तुम वहाँ ऊपर क्या कर रहे हो। तुम नीचे आओ मुझे तुम्हारे घर ठहरना है। तुम भी अब्राहम के बेटे हो। “

जीसस यहाँ उस अब्राहम की बात कर रहे है जिसे ईश्वर ने अपना देश छोड़कर दूसरे देश में जाने को कहा था। अब्राहम की कोई भी संतान नहीं थी लेकिन बाद में ईश्वर ने उन्हें दो बेटे दिए जिसमे एक का नाम इस्माइल था और दूसरे का नाम इसाक था। इस्माइल की माँ हगर थी और इसाक की माँ सरई थी।

अगर आपने अब्राहम की कहानी नहीं पढ़ी और अगर आप अब्राहम की कहानी पढ़ना चाहते है तो यहाँ क्लिक करें –

ज़च्चायुस में बदलाव

ज़च्चायुस जीसस को देख उनकी ओर आकर्षित होने लगा उसे समझ नहीं आ रहा था की यह हो क्या रहा है। वह जीसस की बातों को सुनकर हैरान हो गया और सोचने लगा की जीसस उसका नाम कैसे जानते है ? ज़च्चायुस ने जीसस से कहा, “मेरे ईश्वर आपका मेरे घर में स्वागत है। मैं इस बात से बहुत खुश हूँ की ईश्वर मेरे घर पधार रहे है।”

इन सब से ज़च्चायुस तो खुश था लेकिन जेरिको के निवासी खुश नहीं थे लोग आपस में बात करने लगे की जीसस आखिर एक पापी के घर में क्यों जा रहे है? लोगो के मन में तरह-तरह के सवाल उठने लगे। लोगो ने कहा, “जो धनि है उसके लिए ईश्वर के राज्य में प्रवेश करना कठिन है। जो मनुष्य के लिए नामुमकिन है वह ईश्वर के लिए मुमकिन है। “

वही जीसस ज़च्चायुस के घर के अंदर प्रस्थान करते है और उसके यहाँ भोजन ग्रहण करते है। जीसस आस-पास पड़े महँगी चीज़ो को देखते है और ज़च्चायुस से कहते है, “ज़च्चायुस कोई भी दो स्वामी की सेवा नहीं कर सकता क्योकि वह एक से बैर और दूसरे से प्रेम करेगा। वह अपने एक स्वामी से आदर और दूसरे का तिरस्कार करेगा। कोई भी एक समय पे धन और ईश्वर दोनों की सेवा नहीं कर सकता। अगर वह धन को अपना स्वामी मानता है तो वह ईश्वर से दूर रहेगा। “

जीसस की ऐसी बात सुनकर ज़च्चायुस की आँखों में आँसू आ गए और उसने जीसस से कहा, “मेरे ईश्वर मुझपर दया करें। मैं अपनी संपत्ति का आधा गरीबो में लुटा दूंगा और वह भी लोगो में बाँट दूंगा जो मैंने धोखे से लोगो से लिए थे। “

ऐसा कहकर ज़च्चायुस तुरंत बाहर गया और लोगो से अपने किये हुए पापों की माफ़ी मांगने लगा। वह अपनी संपत्ति लोगो में बाँटना शुरू कर दिया। वह लोगो में धन-दौलत लुटाने लगा। ज़च्चायुस ने लोगो को खाने के लिए खाना भी दिया जिससे की भूखे लोग अपना पेट भर सके। इस बार ज़च्चायुस पूरी तरह से बदल चूका था।

जीसस का आशीर्वाद

ज़च्चायुस को इस तरह से अपना धन लोगो में बांटता देख सब हैरान हुए सब सोंचने लगे की आखिर उसे हुआ क्या है? ज़च्चायुस जो इतना पापी था और दुसरो पे अत्याचार करता था आज वह पूरी तरह से बदल चूका है। लोग समझ चुके थे की यह ईश्वर की महिमा है। जीसस ने ज़च्चायुस को सही रास्ता दिखाया है।

फिर जीसस घर से बाहर आते है और कहते है, “आज इस घर में मुक्ति का आगमन हुआ है। यह अब्राहम का बेटा है जो खो गया था। तुम सबसे पहले ईश्वर के राज्य और उसकी धार्मिकता की खोज में लगे रहो और ये सब चीज़े तुम्हें युही मिल जाएंगी। “

तो इस तरह से जीसस एक और भटके हुए मनुष्य को ईश्वर के मार्ग में लेकर आए। बच्चों यह कहानियाँ तुम दुसरो को भी सुनाओ ताकि हम सब ईश्वर की इस धरती को स्वर्ग जैसा बना सके।

अगर आपको ज़च्चायुस की यह कहानी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करें ऐसा करने से जीसस और उस ईश्वर का सन्देश ज़्यादा से ज़्यादा लोगो तक पहुंचेगा आमीन।

इस कहानी से हमें क्या सिख मिलती है ?

हम सबके अंदर धन के प्रति लालसा होती है। हम ज़्यादा से ज़्यादा धन इखट्टा करना चाहते है और दुसरो से अमीर होना चाहते है। इस कहानी में कहा गया है की, “जो धनि है उसके लिए ईश्वर के राज्य में प्रवेश करना कठिन है। जो मनुष्य के लिए नामुमकिन है वह ईश्वर के लिए मुमकिन है। “

यहाँ इसका मतलब यह है की जो भी धनि लोग होते है उनका ध्यान हमेशा धन इखट्टा करने में होता है। ज़्यादा धन इखट्टा करने के चक्कर में वह बुरे काम करता है और पाप का भागीदार बनता है। ऐसा करने से वह ईश्वर से दूर होता जाता है वह ना तो ईश्वर से प्रेम करता है और ना ही ईश्वर से प्रार्थना करता है।

इसीलिए जीसस ने ज़च्चायुस से भी यही कहा था, “कोई भी दो स्वामी की सेवा नहीं कर सकता क्योकि वह एक से बैर और दूसरे से प्रेम करेगा। वह अपने एक स्वामी से आदर और दूसरे का तिरस्कार करेगा। कोई भी एक समय पे धन और ईश्वर दोनों की सेवा नहीं कर सकता। अगर वह धन को अपना स्वामी मानता है तो वह ईश्वर से दूर रहेगा।”

इसका अर्थ भी यही है की हमें अपना ध्यान धन दौलत से हटा कर ईश्वर के प्रेम और उसके राज्य को जानने में लगाना चाहिए।

READ MORE STORIES IN ENGLISH

Interactive Children’s Stories For Church

Best Bedtime Story For Kids With Moral

Dinosaur Bedtime Stories For Kids

Cat Bedtime Story For Kids

Unicorn Bedtime Stories For Kids

The Little King – Story For Kids’ Bedtime

Story For Kids’ Bedtime Aladdin And His Magic Lamp Story

Dojo And The 7 Wonders – Story For Kids’ Bedtime

New Bedtime Stories Of Princess In Hindi

Bedtime Detective Stories For Kids

STORIES IN HINDI

10+ Short Story For Kids In Hindi – Bacchon Ki Kahaniyan

ड़ोजो और 7 अजुबें – Story For Kids In Hindi

अलादीन का जादुई चिराग-Story For Kids In Hindi

लिली और भगवान-Story For Kids In Hindi

छोटा राजा -Story For Kids In Hindi

Princess Story in Hindi

What Type Of Story Kids Like Most In Hindi

Unicorn Story For Kids In Hindi

Cat Stories For Kids In Hindi

Dinosaur Short Stories For Kids In Hindi

Detective Stories For Kids In Hindi

1 thought on “Zacchaeus Bible Story in Hindi”

Leave a Comment